कॉपीराइट नीति

बुधवार को अंतिम अपडेट, 20 मार्च 2019 04:22

जनता को राष्ट्रीय दृष्टि दिव्यांगजन सशक्तिकरण संस्थान वेबसाइट की अनुमति के बिना उन दस्तावेजों को छोड़कर पुन: पेश किया जा सकता है, जो उन दस्तावेजों के लिए हैं, जिन पर एक और कॉपीराइट नीति लागू होती है। यदि किसी निजी पार्टी ने इसे प्रायोजित किया है, तो दस्तावेज़ के प्रजनन पर प्रतिबंध उत्पन्न हो सकता है।

वर्तमान में हमारी वेबसाइट पर कोई भी तृतीय पक्ष सामग्री नहीं रखी गई है। यदि भविष्य में किसी भी तीसरे पक्ष की सामग्री को रखा जाएगा, तो संस्थान प्रकाशन से पहले संबंधित स्रोत से आवश्यक अनुमति लेगा।

हालांकि, एनआईईपीवीडी, इस साइट पर अधिकांश जानकारी का एकमात्र प्रायोजक है।

Font Resize
Contrast